Sports

T20 Champions League Return in India, England, Pakistan, Australia Cricket Team IPL News Updates | टी-20 चैम्पियंस लीग की वापसी हो सकती है; भारत, इंग्लैंड, पाकिस्तान, ऑस्ट्रेलिया पूरी तरह तैयार

  • 2009 से 2014 तक चैम्पियंस लीग हुई, ब्रॉडकास्टिंग इश्यू और फैंस की कमी के कारण इसे बंद कर दिया गया था
  • आईपीएल टीम राजस्थान रॉयल्स के मालिक मनोज बादले ने कहा- इसके लिए भारतीय बोर्ड का सपोर्ट जरूरी

दैनिक भास्कर

Jun 27, 2020, 07:50 AM IST

क्रिकेट में टी-20 फैंस का अभी सबसे पसंदीदा फॉर्मेट है। कई देशों में टी-20 लीग शुरू हो चुकी हैं। कई लीग की चैम्पियन टीमों को मौका देने के लिए 2009 में टी-20 चैम्पियंस लीग शुरू की गई थी। 2014 तक यह चली, लेकिन ब्रॉडकास्टिंग इश्यू और कम फैंस के कारण इसे बंद कर दिया गया। अब फिर से इसे शुरू किया जा सकता है।

भारत, इंग्लैंड, ऑस्ट्रेलिया और पाकिस्तान जैसे देश के क्लब इसके पक्ष में हैं। सरे क्लब के चीफ एक्जीक्यूटिव रिचर्ड गाउल्ड ने कहा कि हम चैम्पियंस लीग की वापसी से खुश होंगे। यह क्लब क्रिकेट की वापसी जैसा है।

रास्ता तलाशने के लिए चर्चा जरूरी

आईपीएल टीम राजस्थान रॉयल्स के मालिक मनोज बादले ने कहा, ‘चैम्पियंस लीग के लिए अच्छी बात यह है कि यह एक छोटे से टी-20 लीग को उद्देश्य देता है। इसलिए क्वालिटी पर अच्छा प्रभाव पड़ता है। इसे फिर से शुरू करने के लिए भारतीय बोर्ड का सपोर्ट जरूरी है।’ आईपीएल के पूर्व चीफ ऑपरेटिंग ऑफिसर सुंदर रमन ने कहा कि मैं इसकी वापसी का पूरा समर्थन करता हूं। उन्होंने कहा कि यह चर्चा करना महत्वपूर्ण है कि इसका रास्ता कैसे निकलता है।

यह एक तरह से गेम चेंजर साबित होगा
गाउल्ड ने कहा कि भले ही कॉमर्शियल मॉडल वर्क नहीं कर रहा है, लेकिन सभी एक साथ मिलकर फिर टूर्नामेंट को कराने को तैयार होंगे। मैंने आईपीएल टीमों से इस संबंध में चर्चा की है। पाकिस्तान सुपर लीग टीम मुल्तान सुल्तांस के सह मालिक अली खान ने कहा, ‘यदि घरेलू टीमें इंटरनेशनल टूर्नामेंट खेलती हैं तो यह एक तरह से गेम चेंजर साबित होगा।’ ऑस्ट्रेलिया बिग बैश लीग टीम मेलबर्न के हेड निक कमिंस ने कहा कि चैम्पियंस लीग एक अच्छा आइडिया है लेकिन इसमें आगे जाकर सोचना होगा। टूर्नामेंट से कैरेबियन प्रीमियर लीग, पाक, भारत, ऑस्ट्रेलिया की लीग टीमों के पास अच्छा मौका है।

आईसीसी और सभी देश के क्रिकेट बोर्ड को ग्लोबल स्ट्रक्चर देखने की जरूरत: फीका
खिलाड़ियों की ग्लोबल संस्था फीका के हेड टॉम मॉफेट ने कहा कि यह एक अच्छा सुझाव है। इसके लिए शेड्यूल खोजा जाना चाहिए। उन्होंने कहा, ‘खिलाड़ी उन चीजों को महत्व देते हैं जो अच्छा हो और जिसकी कॉमर्शियल वैल्यू हो। ऐसे में आईसीसी और बोर्ड को इस संबंध में ग्लोबल स्ट्रक्चर को देखने की जरूरत है। शेड्यूल को इसी तरह से बनाना चाहिए।’

क्लब टूर्नामेंट को वैल्यूएबल बनाने का मौका
आईसीसी के पूर्व हेड ऑफ स्ट्रेटजी जोन लॉन्ग ने कहा कि कहीं पर आकर क्रिकेट में देशों की निर्भरता कम होनी चाहिए। इसके आयोजन से क्लब क्रिकेट को वैल्यूएबल बनाया जा सकता है।

इन 12 टीमों को मिल सकता है मौका

  • एशियन ग्रुप: मुंबई इंडियंस, चेन्नई सुपरकिंग्स, दिल्ली कैपिटल्स, मुल्तान सुल्तांस (पाक), कोलंबो (श्रीलंका), राजशाही रॉयल्स (बांग्लादेश)
  • वर्ल्ड ग्रुप: सिडनी सिक्सर्स (ऑस्ट्रेलिया), रॉक्स (द. अफ्रीका), बारबाडोस (विंडीज), एसेक्स (इंग्लैंड), वेलिंगटन (न्यूजीलैंड), यूरो टी-20 स्लैम चैंपियन ऑस्ट्रेलिया के मिचेल स्टार्क ने भी ट्रेनिंग शुरू की।
  • लीग: आईपीएल की टॉप-3 टीमों के अलावा अन्य देश की चैंपियन टीम को मौका मिल सकता है।

Source link

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close