Entertainment

Karan Johar’s Dharma Productions’ CEO Apoorva Mehta record his statement after Summoned in Sushant Singh Rajput death Case | पुलिस ने दर्ज किया धर्मा प्रोडक्शन्स के सीईओ अपूर्व मेहता का बयान, उन्होंने बताया- सुशांत और हमारे बीच कोई विवाद नहीं था

मुंबईएक घंटा पहले

करन जौहर के साथ सुशांत (फाइल फोटो) और अंबोली पुलिस स्टेशन में खड़े अपूर्व मेहता (दायां फोटो) ।

  • इस मामले में जल्द ही धर्मा प्रोडक्शन्स के मालिक करन जौहर को भी पूछताछ के लिए बुलाया जा सकता है
  • कंगना रनौट ने करन को न बुलाए जाने को लेकर मुंबई पुलिस के खिलाफ नाराजगी जाहिर की थी

सुशान्त सिंह राजपूत सुसाइड केस में मुंबई पुलिस ने मंगलवार को धर्मा प्रोडक्शन्स के सीइओ अपूर्व मेहता का बयान दर्ज किया। मुम्बई के अंबोली पुलिस स्टेशन में करीब तीन घंटे तक हुई इस पूछताछ में पुलिस ने उनसे फिल्म ‘ड्राइव’ को बनने में हुई देरी, उसे थिएटर्स की बजाए सीधे ओटीटी प्लेटफॉर्म पर रिलीज करने और इसे लेकर सुशांत से हुए विवाद के बारे में सवाल पूछे।

दैनिक भास्कर को मिली जानकारी के अनुसार पुलिस के सवालों का जवाब देते हुए धर्मा प्रोडक्शन्स के सीईओ ने बताया कि ‘सुशांत और प्रोडक्शन हाउस के बीच कोई विवाद नहीं था। ‘ड्राइव’ फिल्म साल 2017 में फ्लोर पर गई थी लेकिन फिल्म बनने में करीब डेढ़-दो साल की देरी हो गई, क्योंकि उसमें वीएफएक्स का इस्तेमाल बहुत ज्यादा किया गया था। जिसे पूरा करना बहुत जरूरी था।’

‘इसके अलावा फिल्म में कुछ पैच वर्क और रीशूट का काम भी बचा था और जिसे शूट करने का फैसला टीम ने लिया था। इसलिए फिल्म डिले हुई थी। वहीं फिल्म को ओटीटी प्लेटफार्म पर रिलीज करने के बारे में अपूर्व मेहता ने बताया कि ये फैसला कमर्शियल डिसीजन था, जिसे लेकर सुशांत से कभी कोई विवाद नहीं था।’

खबरें थीं कि ओटीटी रिलीज से खुश नहीं थे सुशांत

इससे पहले खबरें आई थीं कि ‘ड्राइव’ फिल्म को लेकर सुशांत और करन जौहर के बीच आपस में ठन गई थी, क्योंकि सुशांत इस फिल्म को थिएटर में रिलीज करवाना चाहते थे, लेकिन उनकी जानकारी के बिना ही उसे ओटीटी प्लेटफॉर्म पर रिलीज कर दिया गया। जिसके बाद दोनों में विवाद हुआ और इसके बाद ही करन जौहर ने सुशांत को फ्लॉप एक्टर करार देते हुए उनके साथ फिर कभी काम न करने की घोषणा तक कर दी थी।

करन और धर्मा पर लगातार उठ रहे सवाल

पुलिस जल्द ही इस केस में धर्मा प्रोडक्शन्स के मालिक करन जौहर से भी पूछताछ करने वाली है, ऐसे में इस मामले में कंपनी के सीईओ का बयान बहुत अहम हो जाता है, क्योंकि उनका बयान ही जौहर से पूछताछ का आधार बनेगा। सुशांत की मौत के बाद से ही करन जौहर और उनके धर्मा प्रोडक्शन्स पर सवाल उठते रहे हैं।

पुलिस स्टेशन में बयान देने पहुंचे अपूर्व मेहता (हाथ में पानी की बोतल लिए हुए)

इसी हफ्ते करन जौहर से भी होगी पूछताछ

इस मामले में धर्मा प्रोडक्शन्स के मालिक करन जौहर से भी इसी हफ्ते पूछताछ करते हुए उनका बयान रिकॉर्ड किया जाएगा। न्यूज एजेंसी एएनआई ने सोमवार को मुंबई पुलिस के हवाले से इस बारे में जानकारी दी थी। उनसे फिल्म ‘ड्राइव’ और इंडस्ट्री में चल रही खेमेबाजी को लेकर सवाल पूछे जाने की संभावना है।

बदली गई थी पूछताछ की जगह

इससे पहले सोमवार को पुलिस ने फिल्म मेकर महेश भट्ट से सांताक्रूज पुलिस स्टेशन में करीब दो घंटे तक पूछताछ की थी। पुलिस ने उन्हें बांद्रा पुलिस स्टेशन बुलाया था लेकिन मीडिया के जमावड़े को देखते हुए भट्ट ने पुलिस से सांताक्रूज पुलिस स्टेशन में पूछताछ करने का आग्रह किया। इसके बाद मामले की जांच करने वाले पुलिस अधिकारी सांताक्रूज पुलिस स्टेशन पहुंचे। सूत्रों के मुताबिक, महेश भट्ट से फिल्म सड़क-2 को लेकर भी पूछताछ हुई है।

उपमुख्यमंत्री के बेटे ने भी की सीबीआई जांच की मांग

अभिनेता की मौत के मामले में एनसीपी नेता और महाराष्ट्र के उप मुख्यमंत्री अजित पवार के बेटे पार्थ पवार ने सीबीआई जांच की मांग की है। अपनी मांग को लेकर उन्होंने सोमवार को प्रदेश के गृह मंत्री अनिल देशमुख को एक पत्र सौंपा।

पुलिस पर भड़क गई थीं कंगना

धर्मा प्रोडक्शन्स के सीईओ को समन भेजने की बात सामने आने के बाद रविवार को एक्ट्रेस कंगना रनोट पुलिस पर भड़क गईं थीं। उन्होंने पुलिस से सुशांत हत्याकांड की जांच का मजाक नहीं बनाने को कहा था। ये बात उनकी टीम ने सोशल मीडिया पर प्रतिक्रिया देते हुए लिखी थी।

टीम कंगना ने रविवार दोपहर दो ट्वीट किए थे। जिनमें से पहले ट्वीट में लिखा, ‘तो करन जौहर के मैनेजर को समन भेजा गया है, लेकिन आदित्य ठाकरे के बेस्ट फ्रेंड करन जौहर को नहीं। मुंबई पुलिस सुशांत सिंह राजपूत हत्याकांड की जांच का मजाक बनाना बंद करो।’

पुलिस इतनी बेशर्मी कैसे दिखा सकती है?

अपने अगले ट्वीट में टीम कंगना ने लिखा था, ‘समन जारी करने में भी मुंबई पुलिस खुलेआम इतनी बेशर्मी किस तरह दिखा सकती है? कंगना को समन भेजा गया, ना कि उसकी मैनेजर को, लेकिन मुख्यमंत्री के बेटे के सबसे अच्छे दोस्त के मैनेजर पूछताछ के लिए बुलाया गया है, क्यों? साहेब को परेशानी ना हो इसलिए?’

कंगना ने उठाया था महाराष्ट्र सरकार पर सवाल

इससे पहले इस केस में अबतक करन जौहर से पूछताछ नहीं होने को लेकर शनिवार को कंगना रनोट की टीम ने महाराष्ट्र सरकार पर निशाना साधा था। उन्होंने लिखा था, ‘पुलिस उन्हें कभी नहीं बुलाएंगी, क्योंकि वे आदित्य उद्धव ठाकरे के बेस्ट फ्रेंड हैं। यह उनकी सरकार है और उन्होंने कंगना के इंटरव्यू से पहले यह केस बंद कर दिया था। यह इस बात का सबूत है कि वे अपने दोस्तों को बचा रहे हैं।’

कंगना के निशाने पर हैं करन

सुशांत की मौत के बाद से ही कंगना करन जौहर पर निशाना साध रही हैं। उन्होंने करन को बॉलीवुड माफिया बताते हुए उन पर आरोप लगाया है कि वे नेपोटिज्म और गुटबाजी को बढ़ावा देते हैं, जिससे परेशान होकर सुशांत ने खुदकुशी जैसा कदम उठाया। इतना ही नहीं, कंगना यह दावा भी कर चुकी हैं कि करन ने जानबूझकर अपनी फिल्म ‘ड्राइव’ को थिएटर्स की बजाय ओटीटी प्लेटफॉर्म पर रिलीज कर सुशांत को फ्लॉप स्टार साबित करने और उनका करियर बर्बाद करने की कोशिश की थी।

अब तक 39 लोगों से हो चुकी पूछताछ

सुशांत सिंह राजपूत 14 जून को अपने मुंबई स्थित फ्लैट में मृत पाए गए थे। पोस्टमॉर्टम और विसरा रिपोर्ट में यह स्पष्ट हो चुका है कि उन्होंने आत्महत्या की थी। साथ पुलिस जांच में उनके डिप्रेशन में होने की बात सामने आई है। सुशांत डिप्रेशन में क्यों थे? और उन्होंने सुसाइड जैसा कदम क्यों उठाया? इन सवालों के जवाब जानने के लिए अपूर्व मेहता समेत पुलिस 39 लोगों से पूछताछ कर चुकी है। इनमें कई बड़े नाम शामिल हैं:

  • 23 जुलाई को पुलिस ने सुशांत के दोस्त और फिल्ममेकर रूमी जाफरी को पुलिस स्टेशन बुलाया था। जाफरी ने पुलिस को बताया कि उन्हें 6 महीने पहले सुशांत के डिप्रेशन में होने की बात पता चली थी, अभिनेता की गर्लफ्रेंड रिया चक्रवर्ती ने उन्हें ये बात बताई थी।
  • 21 जुलाई को मुंबई पुलिस ने फिल्म क्रिटिक और वरिष्ठ पत्रकार राजीव मसंद से 8 घंटे से ज्यादा पूछताछ की थी। सुशांत के करीबियों ने आरोप लगाया है कि राजीव मसंद सुशांत की फिल्मों को निगेटिव रिव्यू देते थे। साथ ही वे किसी के इशारे पर उनके खिलाफ निगेटिव ब्लाइंड आर्टिकल भी लिख रहे थे। सुशांत इसे लेकर दुखी और परेशान रहते थे।
  • इससे पहले सुशांत का इलाज कर रहे तीन साइकैट्रिस्ट और एक साइकोथेरेपिस्ट के बयान दर्ज किए गए थे। एक साइकैट्रिस्ट ने बताया कि सुशांत बाइपोलर डिसऑर्डर नाम की बीमारी से जूझ रहे थे। वहीं, बाकी डॉक्टर्स के मुताबिक, उनकी जिंदगी काफी तनाव भरी थी। हालांकि, सुशांत को यह तनाव क्यों था? इसका जवाब कोई भी डॉक्टर नहीं दे सका।
  • यशराज फिल्म्स के मालिक और प्रोड्यूसर आदित्य चोपड़ा से मुंबई पुलिस ने वर्सोवा थाने में पूछताछ की थी। दरअसल, सुशांत ने चोपड़ा के साथ तीन फिल्में ‘शुद्ध देसी रोमांस’, ‘डिटेक्टिव ब्योमकेश बक्शी’ और ‘पानी’ साइन की थी। लेकिन ‘पानी’ बन नहीं सकी। आदित्य से इसे लेकर ही सवाल-जवाब किए गए। इसमें उन्होंने कहा कि यह फिल्म डायरेक्टर शेखर कपूर के साथ क्रिएटिव डिफरेंस के चलते नहीं बन पाई।
  • शेखर कपूर अपना बयान मुंबई पुलिस को मेल कर चुके हैं। इसमें उन्होंने लिखा था कि ‘पानी’ बंद होने के बाद सुशांत को काफी सदमा लगा था। वे टूटकर डिप्रेशन में चले गए थे। क्योंकि इस फिल्म के लिए उन्होंने अपने कई साल दे दिए थे और कई बड़े ऑफर भी ठुकरा दिए थे। शेखर को पूछताछ के लिए पुलिस स्टेशन बुलाया जा सकता है।
  • ‘पानी’ के लिए सुशांत ने संजय लीला भंसाली की चार फिल्में छोड़ी थीं। यह खुलासा भंसाली ने पुलिस को दिए बयान में किया। उन्होंने कहा, “मैंने सुशांत को जो चार फिल्में ऑफर की थीं, वे ‘गोलियों की रासलीला रामलीला’, ‘बाजीराव-मस्तानी’, ‘रीड’ (जो बनी नहीं) और ‘पद्मावत’ थीं। ‘रामलीला’ के वक्त सुशांत YRF के कॉन्ट्रेक्ट में बंधे थे और ‘पानी’ के लिए वर्कशॉप ले रहे थे। इसी तरह ‘बाजीराव-मस्तानी’, ‘रीड’, और ‘पद्मावत’ (शाहिद कपूर के निभाए रोल) के लिए भी मैंने सुशांत को अप्रोच किया था, लेकिन इन सभी फिल्मों की डेट भी उन्होंने पहले से ‘पानी’ को दे रखी थीं।’
  • इन सबके के अलावा यशराज फिल्म के कुछ पूर्व अधिकारी, कास्टिंग डायरेक्टर शानू शर्मा, टैलेंट मैनेजर रेशमा शेट्टी, गर्लफ्रेंड रिया चक्रवर्ती, उनके भाई शोविक चक्रवर्ती, सुशांत का घरेलू स्टाफ, मैनेजर, पीआर टीम, एक्स मैनेजर, दोस्त, को-स्टार और परिवार के सदस्यों से भी पूछताछ ही चुकी है।
  • इस केस में मुंबई पुलिस ने कंगना रनोट को भी समन भेजकर 27 जुलाई से 31 जुलाई के बीच किसी भी दिन सुबह 11 बजे बांद्रा स्टेशन आने के लिए कहा था। हालांकि एक्ट्रेस ने अपने वकील के जरिए जवाब भेजकर पुलिस से पूछताछ के सवाल भेजने या किसी ऑनलाइन तरीके से बयान लेने की गुजारिश की है।

0




Source link

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close