Entertainment

Kangana Ranaut’ big allegations on Aditya Chopra, says- producer had threatened when she refused to ‘Sultan’ | एक्ट्रेस का दावा- ‘सुल्तान’ का ऑफर ठुकराने की बात मीडिया में कही तो प्रोड्यूसर ने दी थी धमकी, कहा था- अब तुम खत्म

4 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

कंगना रनोट ने जब ‘सुल्तान’ का ऑफर ठुकराया तो आदित्य चोपड़ा ने अनुष्का शर्मा को कास्ट किया था।

  • कंगना रनोट के मुताबिक, मीडिया में ‘सुल्तान’ ठुकराने की बात कहने पर आदित्य चोपड़ा उनसे नाराज हो गए थे
  • एक्ट्रेस ने यह दावा भी किया कि करन जौहर ने रणनीति बनाकर सुशांत सिंह राजपूत को फ्लॉप साबित किया

कंगना रनोट ने यशराज फिल्म्स के मालिक और प्रोड्यूसर आदित्य चोपड़ा पर गंभीर आरोप लगाए हैं। उनका कहना है कि जब उन्होंने यशराज के साथ फिल्म ‘सुल्तान’ करने से इनकार कर दिया था, तब आदित्य चोपड़ा ने उन्हें धमकी दी और कहा था कि अब वे खत्म हो जाएंगी। एक्ट्रेस ने यह दावा एक चैनल को दिए इंटरव्यू में किया है। 

खान्स के साथ फिल्म नहीं करना चाहती थीं कंगना 

अर्णब गोस्वामी के इंटरव्यू में कंगना ने कहा- मुझे सलमान खान के साथ ‘सुल्तान’ नाम की एक फिल्म ऑफर हुई थी। डायरेक्टर (अली अब्बास जफर) ने मेरे घर आकर कहानी सुनाई थी। उस समय तक मैंने एक ही ब्लॉकबस्टर फिल्म दी थी। मैंने कहा कि मैं खान्स के साथ फिल्म नहीं करना चाहती। मैं सिर्फ ऐसी फिल्म करना चाहती हूं, जो सिर्फ मेरी हो।

इसके बाद आदित्य चोपड़ा के साथ मेरी मीटिंग हुई । मैं उनसे माफी (फिल्म छोड़ने के लिए) मांगना चाहती थी और उस समय उन्हें इससे कोई आपत्ति नहीं थी। लेकिन जैसे  ही यह खबर मीडिया में आई कि मैंने ‘सुल्तान’ करने से इनकार कर दिया है तो उन्होंने मुझे मैसेज भेजा कि तुम्हारी हिम्मत कैसे हुई? तुमने मुझे मना किया, फिर प्रेस के पास चली गईं? 

मैंने कहा कि मैंने फेयरनेस क्रीम का ऑफर ठुकराया, मैंने खान्स के साथ काम करने से मना किया। मैं छोटे से गांव से आई लड़की हूं और मेरे लिए ये अचीवमेंट्स हैं। मुझे इन्हें क्यों छुपाना चाहिए? इस पर उन्होंने कहा- तुम्हे पता है, तुम खत्म हो जाओगी। हम तुम्हारे साथ कभी काम नहीं करेंगे।

कंगना ने करन जौहर पर भी लगाए आरोप

कंगना ने इसके आगे सुशांत सिंह राजपूत केस पर बात की। उन्होंने कहा कि सुशांत अपने दम पर आगे बढ़ रहे थे और अपना काम कर रहे थे। दो साल के स्ट्रगल के बाद उन्होंने ‘एमएस धोनी’ जैसी बड़ी हिट दी। अब आदित्य चोपड़ा उनके साथ काम (शेखर कपूर की ‘पानी’ में, जो फ्लोर पर आने से पहले ही बंद कर दी गई थी) नहीं करते। इस बीच उनके सबसे अच्छे दोस्त करन जौहर पूरी रणनीति के साथ पिक्चर में आ जाते हैं। 

वे उन्हें (सुशांत को) हायर करते हैं और इस फिल्म (ड्राइव) के शूट में तीन साल लगा देते हैं और उन्हें दुनिया के सामने फ्लॉप स्टार बता देते हैं। कहते हैं कि मैं इस फिल्म को नहीं बेच सकता। 

कंगना आगे कहती हैं- मैंने अपना छोटा सा स्टूडियो शुरू किया है। मैंने एक फिल्म भी डायरेक्ट की है, एक फिल्म डिलीवर की है, एक फिल्म रिलीज की है, मैं जानना चाहती हूं कि ब्लॉकबस्टर ‘धोनी’ के बाद ऐसा क्या माहौल बना कि करन जौहर को कोई फिल्म (ड्राइव )खरीदने वाला नहीं मिला। यह कैसे हुआ? 

‘मैं बिजनेस और फाइनेंशियल गणित जानना चाहती हूं’

कंगना कहती हैं- मैं इनके बिजनेस और फाइनेंशियल गणित के बारे में जानना चाहती हूं। अगर कोरोना नहीं होता तो मैं भी एक फिल्म हजार प्रिंट के साथ रिलीज कर सकती हूं। जब अपकमिंग स्टूडियो वाला मेरे जैसा कोई शख्स यह सब कर सकता है तो फिर करन जौहर के पास रिलीज की क्षमता क्यों नहीं है? 

मान लिया कि यह बहुत बड़ी डिजास्टर है। लेकिन सभी के नाम और करियर को बचाने के लिए इसे थिएटर में तो रिलीज करना चाहिए था। ‘ड्राइव’ थिएटर्स में नहीं आई। उन्होंने कहा कि वे फ्लॉप स्टार के साथ इसे नहीं बेच सकते।

यह सब इनके बिजनेस रैकेट का फैलाया हुआ था। जहां वे अपनी फिल्मों को हिट कहते हैं और ‘मणिकर्णिका’, ‘छिछोरे’ और ‘धोनी’ जैसी बड़ी फिल्मों को सेमी बता देते हैं। उनके पूरे सर्किल ने यह प्रिंट करवाना और फैलाना शुरू कर दिया कि सुशांत खत्म हैं।  

यह पब्लिक डोमेन में है और आप देख सकते हैं कि ‘ड्राइव’ रिलीज नहीं हुई थी। उससे पहले ही मीडिया रिपोर्ट्स में यह कहा जाने लगा था कि सुशांत फ्लॉप एक्टर हैं। इसलिए करन जौहर को अपनी फिल्म ‘ड्राइव’ के लिए खरीददार नहीं मिल रहे हैं।  

कंगना ने अवॉर्ड्स पर भी सवाल उठाए

कंगना ने इस बातचीत में पिछले साल हुए अवॉर्ड फंक्शन पर सवाल उठाए, जहां लगभग सभी अवॉर्ड्स ‘गली ब्वॉय’ को दे दिए गए थे। उन्होंने कहा- पिछले साल रिलीज हुई ‘छिछोरे’ ‘गली ब्वॉय’ से बड़ी हिट थी। कितने लोग यह जानते हैं? इसने ‘गली ब्वॉय’ से ज्यादा कमाई की थी। 

जाहिरतौर पर रणवीर सिंह ने ‘गली ब्वॉय’ में अच्छा काम किया था और वे अवॉर्ड डिजर्व कर रहे थे। लेकिन ‘छिछोरे’ को बेस्ट डायरेक्टर, बेस्ट फिल्म के लिए भी स्वीकार नहीं किया गया।आप औसत दर्जे की फिल्म का जश्न मना रहे हैं और आलिया भट्ट जैसी औसत दर्जे की एक्ट्रेस को 10 मिनट के रोल के लिए बेस्ट एक्ट्रेस की ट्रॉफी ले जाती हैं। जोया अख्तर एक औसत दर्जे की फिल्म के लिए बेस्ट डायरेक्टर की ट्रॉफी ले जाती हैं। नितेश (तिवारी) जैसे लोगों को स्वीकार नहीं किया जाता। 

0


Source link

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close