Sports

International Boxing Association saw 12 Indian pugilists being placed in the Top-10, with Amit Panghal at the pinnacle | अमित पंघाल नंबर 1 बॉक्सर बने, पहली बार महिलाओं और पुरुषों की टॉप-10 रैंकिंग में 12 भारतीय शामिल

  • महिला वर्ल्ड चैम्पियनशिप में सिल्वर जीतने वाली बॉक्सर मंजू रानी ने 48 किलो वैट कैटेगरी में करियर की बेस्ट दूसरी रैंकिंग हासिल की
  • बॉक्सिंग फेडरेशन के अध्यक्ष अजय सिंह बोले- टोक्यो ओलिंपिक से पहले रैंकिंग में सुधार होने से खिलाड़ियों का मनोबल बढ़ेगा

दैनिक भास्कर

Jul 10, 2020, 09:26 PM IST

इंटरनेशनल बॉक्सिंग एसोसिएशन (आईबा) की ताजा जारी वर्ल्ड रैंकिंग में भारतीय मुक्केबाज अमित पंघाल 52 किलो वेट कैटेगरी में दुनिया के नंबर 1 बॉक्सर बने। पहली बार भारत के कुल 12 मुक्केबाज टॉप-10 में जगह बनाने में कामयाब रहे। इसमें 8 महिला और 4 पुरुष शामिल हैं।  

अमित के अलावा 6 बार की वर्ल्ड चैंपियन एमसी मैरीकॉम 51 किलो वैट कैटेगरी में तीसरे स्थान पर हैं, जबकि महिला वर्ल्ड चैंपियनशिप में सिल्वर जीतने वाली युवा मुक्केबाज मंजू रानी ने 48 किलो वैट कैटेगरी में करियर की बेस्ट दूसरी रैंकिंग हासिल की है। 

कविंदर रैंकिंग में चौथे स्थान पर 

टॉप-10 में शामिल भारतीय पुरुषों में दीपक (49 किलो, छठा स्थान), कविंदर सिंह बिष्ट (56 किलो, चौथा स्थान) और मनीष कौशिक (64 किलो, छठा स्थान) शामिल हैं। वहीं, महिलाओं में जमुना बोरो (54 किलो, पांचवा स्थान), सोनिया चहल (57 किलो, चौथा स्थान), सिमरनजीत कौर (64 किलो, छठा स्थान), लवलीना बोरगोहेन (69 किलो, तीसरा स्थान), पूजा रानी (81 किलो, आठवां स्थान) और सीमा पूनिया (+ 81 किलो, छठा स्थान) का नाम है। 

टोक्यो ओलिंपिक के लिए बेहतर संकेत: अजय सिंह
भारतीय मुक्केबाजों की इस कामयाबी पर बॉक्सिंग फेडरेशन के अध्यक्ष अजय सिंह काफी खुश हैं। उन्होंने कहा कि टोक्यो ओलिंपिक की ट्रेनिंग शुरू होने से पहले खिलाड़ियों की रैंकिंग में सुधार होने से उनका मनोबल बढ़ेगा। सिंह ने कहा कि मैं हमेशा से ही भारतीय मुक्केबाजों को रैंकिंग में टॉप पर देखना चाहता हूं। इससे मुझे संतुष्टि मिलती है। 

पहली बार 9 बॉक्सरों ने ओलिपिंक कोटा हासिल किया
पहली बार ऐसा हुआ है कि 9 बॉक्सरों ने ओलिंपिक के लिए क्वॉलिफाई किया है। इसमें अमित पंघल (52 किलो), एमसी मैरीकॉम (51 किलो), सिमरनजीत कौर (60 किलो), विकास कृष्णन (69 किलो), पूजा रानी (75 किलो), लवलीना (69 किलो), आशीष कुमार (75 किलो), मनीष कौशिक (63 किलो) और सतीश कुमार (+91 किलो) ने क्वालिफायर के सेमीफाइनल में पहुंचने के साथ कोटा हासिल किया था। इससे पहले 2012 में 8 मुक्केबाजों ने ओलिंपिक कोटा हासिल किया था।


Source link

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close