Entertainment

Hrithik Roshan deposits money in bank accounts of 100 Bollywood dancers put out of work due to Covid-19 | कोरोना के कारण आर्थिक तंगी झेल रहे 100 बॉलीवुड डांसर्स की मदद के लिए आगे आए ऋतिक रोशन, बैंक अकाउंट में ट्रांसफर किए पैसे

9 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

कोरोना महामारी के चलते फिल्मों की शूटिंग बंद होने की वजह से बॉलीवुड डांसर्स को काफी आर्थिक नुकसान झेलना पड़ रहा है। उनकी मदद के लिए ऋतिक रोशन सामने आए हैं। उन्होंने 100 बॉलीवुड डांसर्स की आर्थिक मदद की है जिनके साथ उन्होंने अपने करियर में कभी ना कभी काम किया था।

इस बात की जानकारी देते हुए बॉलीवुड गानों के लिए डांसर कोआर्डिनेटर की तरह काम कर रहे राज सुरानी ने कहा, मुश्किल घड़ी में ऋतिक ने 100 डांसर्स की मदद की है। इनमें से कई अपने गांव चले गए हैं, जबकि कुछ के पास तो घर का किराया भरने के पैसे नहीं हैं। एक डांसर की फैमिली तो कोरोना पॉजिटिव निकली है। इन सबके लिए ऋतिक की मदद ने बहुत बड़ी राहत का काम किया है। बैकग्राउंड डांसर्स इस बात से खुश हो उठे जब उन्हें एसएमएस के जरिए यह जानकारी मिली कि ऋतिक ने उनके बैंक अकाउंट में पैसे ट्रांसफर किए हैं। सभी डांसर्स उनके बहुत आभारी हैं।

फोटोग्राफर्स की मदद भी कर चुके ऋतिक

इससे पहले ऋतिक ने बॉलीवुड फोटोग्राफर्स की मदद की थी जिसका जिक्र सेलेब फोटोग्राफर विरल भयानी ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर किया था। विरल की फोटोग्राफर्स की एक बहुत बड़ी टीम है जो कि मुंबई में होने वाले इवेंट्स कवर करती है।

विरल ने बताया था, ‘इतने कठिन समय में, ऋतिक ने अपने आप उन फोटोग्राफर्स की मदद के लिए हाथ बढ़ाया है जो कि लोअर मिडिल क्लास परिवारों से हैं। मैं बहुत खुश हूं कि ऋतिक ने हमारी मदद की है। कई एक्टर्स एसोसिएशन या यूनियन के जरिए फिल्म इंडस्ट्री में काम कर रहे जरूरतमंदों की मदद कर रहे हैं चूकिं हम किसी फिल्म एसोसिएशन या ट्रेड यूनियन से नहीं जुड़े हैं इसलिए हमें मदद का फायदा नहीं मिल पाया जिसके बाद ऋतिक ने हमारी मदद की है।’

4000 श्रमिकों के लिए दिए थे 25 लाख

ऋतिक ने इससे पहले CINTAA (सिने एंड टीवी आर्टिस्ट एसोसिएशन) को भी 25 लाख रु. की मदद की थी जिससे दैनिक वेतन पर काम करने वाले 4000 श्रमिकों को राहत मिली थी। इसके अलावा ऋतिक ने बीएमसी वर्कर्स को N95 और FFP3 मास्क उपलब्ध करवाए थे। साथ ही अक्षय पात्र नाम के फाउंडेशन के जरिए लॉकडाउन के समय गरीबों को खाना खिलाने की भी व्यवस्था की थी।

0


Source link

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close