Sports

Hockey India President Mohd Mushtaque Ahmad has resigned from his position citing personal commitments | खेल मंत्रालय के आदेश के बाद मुश्ताक अहमद ने पद छोड़ा, मणिपुर के निगोमबाम होंगे कार्यवाहक अध्यक्ष

  • हॉकी इंडिया की एग्जीक्यूटिव बोर्ड की इमरजेंसी मीटिंग में मोहम्मद मुश्ताक अहमद के इस्तीफे को मंजूर किया गया
  • खेल मंत्रालय के मुताबिक, अहमद ने 2018 में हॉकी इंडिया के चुनाव में स्पोर्ट्स कोड की गाइडलाइन का उल्लंघन किया था

दैनिक भास्कर

Jul 10, 2020, 04:23 PM IST

हॉकी इंडिया के अध्यक्ष मोहम्मद मुश्ताक अहमद ने खेल मंत्रालय के आदेश के बाद अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। उनके इस्तीफे को हॉकी इंडिया की एग्जीक्यूटिव बोर्ड ने मंजूर कर लिया है। बोर्ड ने नए अध्यक्ष के चुनाव होने तक मणिपुर के सीनियर वाइस प्रेसिडेंट ज्ञानेन्द्रो निगोमबाम को कार्यवाहक अध्यक्ष नियुक्त किया गया है।

मुश्ताक ने एग्जीक्यूटिव बोर्ड को अपना इस्तीफा मंत्रालय के आदेश के एक दिन बाद 7 जुलाई को ही सौंप दिया था। शुक्रवार को एग्जीक्यूटिव बोर्ड की इमरजेंसी मीटिंग में उनके इस्तीफे को मंजूर किया गया। 

मुश्ताक ने निजी वजहों का हवाला देकर पद छोड़ा 

हॉकी इंडिया ने एक बयान जारी कर कहा, ‘हॉकी इंडिया कार्यकारी बोर्ड की आज इमरजेंसी मीटिंग हुई और मणिपुर के ज्ञानेंद्रो निमोमबाम को हॉकी इंडिया का कार्यवाहक अध्यक्ष बनाया गया।’ मुश्ताक ने 7 जुलाई को हॉकी इंडिया को इस्तीफा भेजा था।

इसमें उन्होंने निजी और पारवारिक वजहों से पद छोड़ने की बात कही थी। आज बुलाई गई बैठक में मुश्ताक का इस्तीफा स्वीकार कर लिया गया।’ खेल मंत्रालय ने पाया था कि 2018 में हुए चुनावों में अहमद ने स्पोर्ट्स कोड की गाइडलाइन का उल्लंघन किया था। इन चुनावों के बाद ही उन्होंने अध्यक्ष पद संभाला था।

खेल मंत्रालय ने 6 जुलाई को इस्तीफा देने के लिए भेजा था पत्र
दिल्ली हाईकोर्ट को ओर से 57 खेल फेडरेशन को मान्यता नहीं दिए जाने के बाद खेल मंत्रालय ने राष्ट्रीय खेल संघों के खिलाफ सख्त रवैया अपनाया हुआ है। खेल मंत्रालय ने 6 जुलाई को पत्र भेजकर मुश्ताक अहमद को पद से इस्तीफा देने को कहा था।

मंत्रालय ने अपने आदेश में कहा था कि 2018 में उनका चुनाव नेशनल स्पोर्ट्स कोड की गाइडलाइन का उल्लंघन है। वहीं, खेल मंत्रालय ने हॉकी इंडिया के महासचिव राजिंदर सिंह को 6 जुलाई को भेजे पत्र में अध्यक्ष पद के चुनाव 30 सितंबर तक नए सिरे से कराने के लिए कहा था।

नियमों पर खरा नहीं उतरता अध्यक्ष का चुनाव
खेल मंत्रालय की ओर से हॉकी इंडिया के सेक्रेटरी जनरल को भेजे गए पत्र में कहा गया था कि मुश्ताक अहमद 2010 से 2104 तक हॉकी इंडिया कोषाध्यक्ष और 2014 से 2018 तक महासचिव रहे हैं। उसके बाद वह 2018 से 2022 तक के लिए हॉकी इंडिया के अध्यक्ष बन गए। यह बतौर पदाधिकारी उनका लगातार तीसरा कार्यकाल है, जोकि नेशनल स्पोर्ट्स कोड की उम्र और कार्यकाल संबंधी गाइलाइन का उल्लंघन है।  

संशोधन के बाद केवल अध्यक्ष लगातार तीन कार्यकाल तक पद पर रह सकता
नेशनल स्पोर्ट्स कोड(2011) के तहत स्पोर्ट्स फेडरेशन के पदाधिकारी लगातार दो बार 4-4 साल के लिए पद संभाल सकते हैं। हालांकि, संशोधन के बाद केवल अध्यक्ष लगातार तीन कार्यकाल पूरे कर सकता है। अहमद के 2018 में अध्यक्ष बनने के बाद से इस मसले पर फेडरेशन और खेल मंत्रालय के बीच विवाद है।

एक आरटीआई के जवाब में खेल मंत्रालय ने अहमद के अक्टूबर 2018 में हॉकी इंडिया अध्यक्ष पद पर चुने जाने को स्पोर्ट्स कोड का उल्लंघन बताया था। मंत्रालय ने उन्हें 13 फरवरी 2019 को लिखे पत्र में पद छोड़ने और हॉकी इंडिया को नए सिरे से चुनाव कराने के लिए कहा था। 




Source link

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close