Entertainment

Bollywood News In Hindi : Saroj Khan felt that Madhuri Dixit would not be able to dance to the song ‘1,2,3 …’, the actress proved her wrong | सरोज खान को लगता था माधुरी नहीं कर पाएंगी ‘1,2,3…’ गाने पर डांस, लेकिन धक-धक गर्ल ने गलत साबित कर दिया मास्टरजी को

दैनिक भास्कर

Jul 03, 2020, 03:11 PM IST

माधुरी दीक्षित का नाम लिया जाए और उनके गानों की बात हो तो शायद आपके जहन में भी सबसे पहले 1988 में आई तेजाब फिल्म का गाना ‘1,2,3…’ ही आएगा। इस गाने की कोरियोग्राफर मास्टरजी सरोज खान थीं जो गुरुवार को दुनिया को अलविदा कह गईं।

माधुरी के करियर में सरोज जी का महत्वपूर्ण स्थान रहा। दोनों ने एक-दूसरे के साथ कई हिट गानों पर काम किया लेकिन, क्या आप जानते हैं कि सरोज जी को शुरुआत में ये लगा था कि माधुरी ‘1,2,3…’गाने पर अच्छा डांस नहीं कर पाएंगी। पर, धक-धक गर्ल माधुरी ने उन्हें गलत साबित कर दिया था। एक इंटरव्यू में माधुरी ने इस बारे में खुलकर बातचीत की थी। 

सरोज जी लगता था मैं वेस्टर्न डांस नहीं कर सकती: बीबीसी एशियन नेटवर्क से एक खास बातचीत के दौरान माधुरी ने कहा था, ‘1,2,3…’ की कोरियोग्राफर सरोज खान के साथ मैंने ‘उत्तर-दक्षिण’ और ‘राम लखन’ में काम किया था। सरोज जी को पता था कि भारतीय पारंपरिक डांस मैं अच्छा कर लेती हूं लेकिन वो कहती थीं कि ये लड़की वेस्टर्न डांस नहीं कर सकती।”

‘1,2,3…’ गाने ने माधुरी को बुलंदियों पर पहुंचा दिया था।

तो फिर ‘1,2,3…’ गाने में वेस्टर्न स्टाइल का बेहतरीन डांस कर कैसे गलत साबित किया माधुरी ने सरोज खान को?

इस सवाल का जवाब देते हुए माधुरी ने कहा था, ‘गाने की शूटिंग से पहले हमने कई बार रिहर्सल की। यही वक्त था जब मैंने सीखा कि ‘बॉलीवुड डांसिंग स्टाइल’ क्या होता है। मुझे लगता है मैंने ‘1,2,3…’ गाने में बढ़िया काम किया। लेकिन ये सरोज जी के बगैर संभव नहीं था।’

आखिरी फिल्म माधुरी के साथ: सरोज खान ने आखिरी गाना पिछले साल करण जौहर की फिल्म ‘कलंक’ के लिए कोरियोग्राफ किया था। इसके बोल थे ‘तबाह हो गए..’। इस गाने में भी उनकी फेवरेट माधुरी नजर आईं थीं।

कलंक के सेट पर सरोज खान और माधुरी।

माधुरी ने जताया शोक: सरोज जी के निधन से माधुरी बेहद दुखी हैं। उन्होंने सोशल मीडिया पर उनके साथ कुछ फोटो शेयर कर उन्हें श्रद्धांजलि देते हुए लिखा, ‘मैं बेहद दुखी हूं और आज शब्द कम पड़ रहे हैं। सरोज जी मेरी जर्नी में शुरुआत से मेरे साथ थीं। उन्होंने मुझे सिर्फ डांस ही नहीं, बल्कि काफी कुछ सिखाया। मेरे मन में उनसे जुड़ी यादें घूम रही हैं। मैं उनके परिवार के प्रति संवेदना व्यक्त करती हूं।




Source link

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close