Entertainment

Anupam Shyam Ojha had stopped dialysis due to financial constraints, now Manoj Bajpayee helped him with one lakh rupees | अनुपम श्याम के इलाज के लिए मनोज बाजपेयी ने दिए एक लाख रुपए, भाई ने बताया- सालभर पहले किडनी खराब हुई, पैसों की तंगी के चलते डायलिसिस रोका

27 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

अनुपम श्याम और मनोज बाजपेयी ने ‘बैंडिट क्वीन’, दस्तक’, और ‘संसोधन’ जैसी में साथ काम किया है।

टीवी सीरियल ‘मन की आवाज प्रतिज्ञा’ में ठाकुर सज्जन सिंह के रोल से फेमस हुए अभिनेता अनुपम श्याम ओझा मुंबई के गोरेगांव स्थित लाइफलाइन मेडीकेयर अस्पताल के आईसीयू में भर्ती हैं। उन्होंने व्हाट्सऐप ग्रुप के जरिए बॉलीवुड सेलेब्स से आर्थिक मदद मांगी है। मनोज बाजपेयी ने उन्हें एक लाख रुपए की मदद पहुंचा दी है। अनुपम की सेहत और आर्थिक स्थिति के बारे में जानने के लिए दैनिक भास्कर ने उनके छोटे भाई अनुराग श्याम ओझा से बात की। उनसे हुई बातचीत के अंश:-

आर्थिक तंगी के कारण बंद किया डायलिसिस करवाना

“भैया पिछले कई सालों से मुंबई में हैं। लेकिन पिछले 2-3 सालों से उनके पास काम नहीं है। वे काम करना चाहते हैं, लेकिन उन्हें कोई ऑफर नहीं मिल रहा है। इसी बीच सालभर पहले उन्हें अपनी किडनी खराब होने की बात पता चली। उन्होंने डायलिसिस कराना शुरू किया। लेकिन आगे चलकर आर्थिक तंगी की वजह से उन्होंने इसे कराना बंद कर दिया। डॉक्टर ने किडनी ट्रांसप्लांट कराने की सलाह दी है, लेकिन पैसे न होने के कारण भैया ऐसा नहीं करवा पा रहे हैं।”

काम बहुत किया, लेकिन पैसे नहीं बचा पाए

“भैया एक्टिंग में करियर बनाने कई साल पहले उत्तर प्रदेश स्थित अपने गांव से मुंबई आए थे। उन्होंने बहुत काम किया, लेकिन पैसे नहीं बचा पाए। मुंबई में उनका घर भी नहीं है। वे पिछले कई सालों से आर्थिक तंगी से जूझ रहे हैं। मैं और मेरा परिवार (पत्नी और छह साल का बेटा ) उन्ही के साथ रहते हैं। कुछ साल तक मैंने भी थिएटर किया, लेकिन उसमे कमाई नहीं थी। इसलिए मैंने वह प्रोफेशन छोड़ दिया और एक होटल में काम करने लगा। फिलहाल हमारी आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं हैं। इसलिए हम मदद का गुहार लगा रहे हैं।”

मनोज बाजपेयी ने एक लाख रुपए की मदद की

“भैया की बीमारी का पता चलने के बाद मनोज बाजपेयी ने हमसे संपर्क किया और तुरंत एक लाख रूपए की मदद की। मैंने वो पैसे अस्पताल में जमा कर दिए हैं। उनके अलावा अब तक कोई और मदद के लिए आगे नहीं आया है। कोविड की वजह से अस्पताल वाले जल्दी से किसी भी मरीज को एडमिट नहीं कर रहे हैं। हम नहीं चाहते कि पैसों की वजह से भैया का इलाज बीच में ही रोकना पड़े। उम्मीद है कि कुछ और लोग हमारी मदद के लिए आगे आएंगे। हमें उनके इलाज के लिए तकरीबन 3 लाख रूपए की और जरूरत पड़ेगी। “

अनुपम श्याम ने नहीं की शादी

मूलरूप से प्रतापगढ़, उत्तर प्रदेश के रहने वाले अनुपम लखनऊ के भारतेंदु एकेडमी ऑफ़ ड्रामेटिक आर्ट्स के छात्र रहे हैं। यहां उन्होंने 1983-1985 तक एक्टिंग की ट्रेनिंग ली। उन्होंने शादी नहीं की। अनुपम ने ‘बैंडिट क्वीन’ (1994), ‘सरदारी बेगम’ (1996), ‘दुश्मन’ (1998), ‘कच्चे धागे’ (1999), ‘लज्जा’ (2001), ‘नायक’ (2001), ‘शक्ति : द पावर'(2002), ‘परजानियां’ (2005), ‘गोलमाल’ (2006), ‘स्लमडॉग मिलियनेयर’ (2008) और ‘मुन्ना माइकल’ (2017) जैसी फिल्मों में अहम भूमिका निभाई है।

0


Source link

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close